पति-पत्नी को 10,000 रुपये पेंशन देने वाली मोदी सरकार की योजना से 3.90 करोड़ लोग जुड़े

[ad_1]

Atal Pension Yojna Latest News: मोदी सरकार की पेंशन स्कीम अटल पेंशन योजना के साथ लगातार लोग जुड़ रहे हैं. इससे जुड़ने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. अटल पेंशन योजना में सब्सक्राइबर की संख्या 3.90 करोड़ पर जा पहुंची है और जल्द ही इसके चार करोड़ छूने की संभावना जताई जा रही है.  

पति-पत्नी को 10,000 रुपये पेंशन
मोदी सरकार ( Modi Government) की पति पत्नी को एक साथ 10,000 रुपये से ज्यादा पेंशन देने वाली सरकारी पेंशन स्कीम ( Government Pension Scheme) अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojna) में अगर आपने अब तक एनरोलमेंट नहीं कराया  है तो जल्द करा लें. 2021-22 वित्तीय साल में अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojna) के साथ 87 लाख लोग जुड़ चुके हैं और अपने भविष्य को सुरक्षित बना चुके हैं. अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojna) के लॉन्च होने के बाद एक वित्त वर्ष के इस अवधि में इतने लोगों का एनरोलमेंट अब तक का सबसे बेहतरीन आंकड़ा है. 

योजना में लगातार जुड़ रहे लोग
राज्यसभा में पूछे गए सवाल के लिखित जवाब में केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री डॉ बीके कराड ने कहा था कि क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और स्टेट लेवल बैंकर्स कमिटी के जरिए आउटरीच कार्यक्रम चलाकर ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस योजना के साथ जोड़ने का अभियान चलाया जा रहा है. केंद्र सरकार बैंकों के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर अटल पेंशन योजना के प्रोग्रेस पर मंथन करता रहा है. 

वुद्धा अवस्था को सुरक्षित बनाता है अटल पेंशन योजना 
अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojna) मोदी सरकार ( Modi Government) की महत्कांक्षी योजना है जिसे 9 मई 2015 को वृद्धा अवस्था में सुरक्षित आय की सुविधा प्रदान करने के लिए शुरू किया गया था. Pension Fund Regulatory and Development Authority (PFRDA) पीएफआरडीए के चेयरमैन सुप्रतिम बंदोपाध्याय ने कहा है कि इस वित्त वर्ष में एक करोड़ लोगों को इस योजना के साथ जोड़ने का लक्ष्य है. और आने वाले समय में पेंशन सभी तक पहुंचाने का काम किया जाएगा और इस दिशा में लगातार प्रयास किया जा रहा है.  

क्या है आवेदन के नियम
आपको बता दें अटल पेंशन योजना के में 18 से 40 साल के उम्र के लोग सब्सक्राइब कर सकते हैं. आवेदक के पास बैंक अकाउंट होना चाहिए. इस योजना में 60 साल के उम्र के बाद 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये तक न्यूनत्तम पेंशन का प्रावधान है. अगर योजना के सब्सक्राइबर की मृत्यु हो जाती है तो पति-पत्नी को आजीवन पेंशन मिलता रहेगा. और यदि दोनों की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन का पूरा पैसा नॉमिनी को दे दिया जाएगा. 

यह भी पढ़ें

Crude Oil Price Hike: रूस यूक्रेन के बीच बातचीत बेनतीजा रहने के चलते फिर कच्चे तेल के दामों में लगी आग, 111 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंचा क्रूड ऑयल

Cryptocurrency: क्रिप्टोकरेंसी में निवेश से होने वाले फायदे नुकसान पर टैक्स के प्रावधान पर फैले भ्रम को सरकार किया खत्म, जानें क्या बोले वित्त राज्यमंत्री

[ad_2]

Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.